Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti

Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti – मेरा नाम शायराहै और मैं मुस्लिम हूँ |मेरी उम्र 19 साल है | मैं अपने घर में अपनी अम्मी के साथ ही रहती हूँ | मेरे पापा काम की वजह से बाहर रहते हैं | मेरी एक बाद बहन है पर उसकी अभी 8 महीने पहले शादी हो गयी है | मेरे जो दीदी की पति हैं वो दिखने में किसीहीरो से कम नही लगते हैं |उनकी बॉडीभी ठीक ठाक है |मेरी दीदीअपने पति के साथ अपने घर रहती हैं | मैं अपनी अम्मी के साथ अपने घर रहती हूँ |

दोस्तों मैं दिखने में काफी गोरी हूँ और मेरा फिगर भी मस्त है | मेरा फिगर काफी सेक्सी हैं जिससे में आप लोगो को अपने फिगर का साइज़ नही बताउंगी | अब मैं आप लोगो का ज्यादा टाइम न लेती हुई सीधे कहानी पर आती हूँ |

मेरे बड़े बड़े बूब्स जो बिलकुल चिकने थे | मेरे बूब्स के ऊपर मेरे मस्त छोटे से निप्पल थे | जो हल्के पिंक रंग के थे | मेरी चूत अभी तक कुवारी ही थी क्यूंकि मैंने अभी तक अपनी चूत में किसी के लंड को नही लिया था | वो मेरी चूत आज लंड को अपने अन्दर लेने के लिए तडफ रही थी | मेरी भरी जवानी लंड का इंतजार कर रही थी | मैं सोच रही थी की ये मेरी जवानी के मज़े कौन लूटेगा | मैं उस रात फिर अपनी चूत को सहलाती हुई सो गयी |

जब मैं सुबह उठी तो बाथरूम में गई नहा कर बाहर आई | मैं तैयर होने के बाद नास्ता किया | फिर मेरी दीदी का फ़ोन आया और दीदी ने बताया की मैं बीमार हूँ इसलिए मैं रिंकू को तुझे लेने भेज रही हूँ | मैंने दीदी से कहा की अम्मी से बोलो तो दीदी ने ये बात अम्मी से बोल दिया | अम्मी ने कहा ठीक है भेज देती हूँ | “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

उसके दुसरे दिन ही रिंकू मुझे लेने आ गया | रिंकू को मैंने एक बार ही देखा था | जब वो शादी में आया था | उसके बाद मैंने रिंकू को नही देखा था | अब जब मैंने रिंकू को देख रही थी तो रिंकू मुझे पहले से ज्यादा ही स्मार्ट लग रहा था | वो मुझे बड़े ही ढंग से देख रहा था | फिर मैंने उससे टेबल पर बैठने को कहा |

वो बैठ गया फिर मैंने खाना लगाया | वो खाने खाने के बाद बोला की तुम जल्दी से तैयार हो जाओ अभी चलना है | मैं तब जाके तैयर हुई उस दिन मैंने ब्लैक कॉलर का शूट पहनी थी | मेरी सहलियाँ कहती हैं की मैं ब्लैक शूट में बहुत अच्छी लगती हूँ | फिर उसने कार की खिड़की खोली और मैं उसके पास ही बैठ गयी | वो बोला की अच्छी लग रही हो | मैंने उसे थैंक्स कहा और वो कार लेकर चल दिया | वो मुझे अच्छा लग रह था | वो मुझसे बात करते हुए कार चला रहा था | कुछ देर तक वो मुझसे ऐसे ही बात करता रहा | “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

वो मुझसे बोला की तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है ?

मैं – नही है |

वो – सच बोलो मुझसे शरमाओ नही

मैं – सच बोल रही हूँ मेरा कोई बॉयफ्रेंड नही है |

वो – मुझे नही लगता इतनी खुबसूरत लड़की का कोई बॉयफ्रेंड न हो |

मैं – हाँ ऐसा ही है पर तुमसे किसने कहा की हर लड़की का बॉयफ्रेंड होता है |

वो – कहा तो किसी ने नही है पर मुझे ऐसा ही लगता है |

मैं – एक बात बताओ तुम्हरी गर्लफ्रेंड है |

वो – मेरी कोई गर्लफ्रेंड नही है |

मैं – नही मानती की तुम्हारी गर्लफ्रेंड नही है |

हम दोनों ऐसे ही एक दुसरे की बातो पर बहस कर रहे थे | फिर वो कुछ देर बाद बोला अच्छा अगर कोई लड़का मिल जाये जो देखने में अच्छा हो और वो तम्हे प्रपोज करे तो | मैंने कहा अगर लड़के को जानती हूँ तो सयद हाँ कर दूँ | वो बोला अगर में तुमसे यही बात कहूँ तो | मैं ये बात सुनकर मन में बहुत खुश हुई पर उससे बोली तो एक दूंगी अभी चुप चाप गाड़ी चलो | वो कार को किनारे लगा कर बोला दो मुझे तभी कार आगे जाएगी | “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

मैं बोली आप तो नाराज हो गए मैं किस देने को कह रही थी | वो बोला तो वही दे दो मैंने उसके गल पर एक किस कर दी और वो कार लेकर चल दिया | हम कुछ ही देर में घर पहुच गए | मैं घर में गयी और दीदी से बात की फिर दीदी ने मुझसे कहा की तुम यहाँ कुछ दिन तक रुक जाना | मैं फिर वहां रुकने के लिए तैयार हो गयी | इस तरह से मेरी रिंकू की ज्यादा ही दोस्ती हो गयी थी | वो मेरी होठो पर किस भी करता था | मैं भी उसकी होठो पर किस करती थी | “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

उसके 8 दिन के बाद की बात है जब रिंकू मुझे रात को अपने कमरे में चुपके से ले गया | वो वहां मेरी होठो पर किस करने लगा | मैं भी उसकी होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी | कुछ देर तक किस करने के बाद में उससे धीमी आवाज में बोली छोड़ो जाने दो कोई जान जायेगा | वो बोला की मम्मी पापा है नही भईया भाभी अपने कमरे में हैं कोई जानेगा | वो मेरी होठो को चूसने के साथ में मेरे मस्त चिकने दूधो को पकपड़े के ऊपर से दबा रहा था | वो मेरे बूब्स को दबाते हुए मेरे कपडे निकाल दिए |  “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

जिससे मैं उसके सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी | वो मेरे बूब्स को ब्रा के ऊपर से दबाने के साथ में मेरी ब्रा के हुक को खोल दिया जिससे मेरे बड़े और चिकने बूब्स उसके सामने आ गए | वो मेरे बूब्स को मुंह में रख कर चूसने लगा | वो मेरे एक दूध को मुंह में रख कर चूस रहा था और दुसरे वाले को हाथ में पकड कर दबा रहा था | मैं  उसके सर को पकड कर उसके सर को सहलाती हुई अपने बूब्स को चूसा रही थी |  “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

वो मेरे पहले वाले दूध को छोड़कर दुसरे वाले दूध के निप्पल को अपनी होठो से पकड कर खीच खीच कर चूसने लगा | जिससे मेरे मुंह से हं हं हं हं हं हं…. आ आ आ आ आ आ… सी सी सी सी… ह ह हह ह ऊ ऊ ऊ… की सिसकियाँ लेने लगी | वो मेरे चिकने दूध को हाथ में पकड कर जोर जोर से मसल रहा था | वो मेरे बूब्स को मसल रहा था | मेरे बूब्स को ऐसे ही 5 मिनट तक चूसता रहा |  “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

फिर वो मेरे बूब्स को छोड़कर मेरी पैंटी को निकाल कर मेरी चूत में अपनी मुंह को घुसा दिया जिससे मेरे मुंह से आ… सी सी सी सी… ह ह हह ह ह ह… ऊ ऊ  ऊ ऊ ऊ ऊ.. सिसकियाँ लेने लगी | वो मेरी चूत को अपनी जीभ से चाटने के साथ में मेरी चूत में अपनी ऊँगली को भी घुसा दिया | वो मेरी चूत में ऐसे ही अपनी ऊँगली को कुछ देर तक अन्दर बाहर करने के बाद | उसने अपने कपडे निकाल दिए |  “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

जब उसने अपने कपडे निकाले तो मैंने उसके लंड को देखा तो मेरे होश ही उड़ गए उसका लंड 8 रंच लम्बा और मोटा 3 इंच था | मैं उसके उस लंड को हाथ में पकड कर घुटने के भल बैठ कर उसके लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | मैं उसके लंड को ऐसे ही मुंह में अन्दर बाहर करती हुई 5 मिनट तक चूसती रही |

फिर उसने अपने लंड को मेरे मुह से निकाल कर मेरी टांगो को फैला कर अपने लंड को मेरी चूत के मुंह पर रख कर मेरी चूत में अपने लंड को धीरे धीरे करते हुए लंड को मेरी चूत में घुसा दिया | मेरे मुंह से एक जोदार चीख निकल गयी उई उई मैईईईइ मर गई यार निकलो बाहर निकलो नही मार जाउंगी | पर वो मेरी चूत में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा | मैं दर्द की वजह से कुछ और नही बोल पाई | मेरी चूत से खून निकल आया | फिर वो मेरी कमर को पकड कर मुझे अपनी और खीच लिया | फिर मेरी चूत में अपने लंड की स्पीड तेज करके मुझे चोदने लगा | वो मेरी चूत में अपने लंड को जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए मुझे चोद रहा था | मैं हं हं हं हं सी सी सी… ह ह हह ह ह ह… ऊ ऊ  ऊ ऊ ऊ ऊ.. की सिसिकियाँ लेती हुई चुद रही थी | “Muslim Ladki Hu Toh Kya Main Rinku Se Chudwa Nahi Sakti”

देखो जी मुझे तो सेक्स कहानियां लिखना अच्छा लगता हैं और चुदवाना भी मेरा नाम अनामिका शर्मा हैं और मैं इस साईट की CEO हूँ और इस साईट पे आप लोगो को हिंदी सेक्स स्टोरी, हिंदी सेक्स कहानियां, उर्दू सेक्स कहानियां, English Sex Story, बंगाली सेक्स स्टोरी मिलेगी जो अगर आपको पसंद हैं वो पढो और अपने दोस्तों को भी शेयर करो Whatsapp पर धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.