Kachhi Kali Hu Mujhe Chodo Meri Bur Ki Chudai Kar Do Please


नमस्कार दोस्तों आप लोगो का Blogtipsy.com इंडिया की सबसे पोपुलर हिंदी सेक्स कहानी साईट पे आपका स्वागत हैं. Kachhi Kali Hu Mujhe Chodo Meri Bur Ki Chudai Kar Do Please – मेरी उम्र 21 साल और मेरी अभी तक शादी नही हुई है. मेरी शादी न होने केकारण मैं चुदने के लिए तडप रही थी। इसीलिए मैंने फैसला किया अब किसी न किसी सेचुदना ही पड़ेगा, कब तक अपनी उंगली डाल डाल कर काम चलूंगी। वैसे मैं देखने मेंबहुत ज्यादा सुंदर तो नही हूँ लेकिन मेरे चहरे की कटिंग बहुत ही अच्छी है। और मेरेमम्मो तो कमाल के है।

मेरी चूचियां बहुत ज्यादा बड़े नही है लेकिनकाफी टाईट है। और मेरी चूत तो अभी भी सटी हुई है और मैं अपनी चूत को हमेशा साफ़रखती हूँ क्योकि मुझे गंदगी पसन्द नही है। दोस्तों मेरा फिगर 32–26 -36 है। मैंने कभी भीनही सोचा था कि मैं भी अपने रिश्ते में ही किसी से चुद जाउंगी। जब मैं 19 साल की हुई तब मेरी चुदाई की कहानी शुरु हो गई। लड़के मुझे औरमेरी चूची को घूरने लगे और साथ में मेरे ऊपर कमेन्ट भी देने लगे। लेकिन मैं उनलोगो को उनसुना कर देती थी और वहां से चुपचाप चली जाती थी।
मैं तो चुदाई के बारे में कुछ जानती भी नहीं थीलेकिन जब एक बार मैं अपने भैया के फोन से मूवी देख रही थी और फिर बीच में अचानक सेचुदाई वाली वीडियो चलने लगी। पहले मैं तो डर गई लेकिन कुछ देर तक देखने पर पता चलाकी ये चुदाई की वीडियो है। मेरे मन में उस दिन पहली बार चुदने की ख्वाहिश जगी, मैं चाहती थी की कोई स्मार्ट और काफी मोटे लंड वाला लड़का मुझेचोदे और मेरी चूत को पूरी तरह से फैला दे।

दोस्तों, मेरे घर के बगल में शरद नाम का लड़का रहता है, वो देखने में किसी हीरो से कम नही है और काफी अच्छी बॉडी भीहै उसकी। मैं शरद को बचपन से चाहती हूँ, मैंने जब से चुदाई वाली वीडियो देखा तब से मेरे मन में तोकेवल शरद के साथ चुदाई से सपने देखने लगी थी। मैं चाहती थी वो मुझे चोदे और मुझकोउसके लंड के स्वाद का इन्तजार था।
कुछ दिन पहले की बात है शरद की मम्मी और उसके बाकी के घर वाले सब लोग उसकी नानी के घर चले गये थे शादी में और शरद अकेला था घर पर। उसकी मम्मी ने मेरे मम्मी से कहा – उसके लिए एक दिनखाना भेज देना और दुसरे दिन तो हम लोग तो आ ही जायेंगे। मेरी मम्मी ने उनसे कहा – ठीक है मैं उसकेलिए खाना भेज दूंगी आप चिंता मत करिए MujheChodo Meri Bur Ki
शरद की मम्मी चली गई, दोपहर हुआ मम्मी ने मुझसे कहा – जाओ शरद घर परअकेला है उसको खाना दे कर आओ। मम्मी की बात सुन कर मुझे बहुत अच्छा लगा, मैंने मन में सोचा शरद घर पर अकेला है हो सकता है मेरा उसके साथ कुछ सीन हो जाये। मैंने खाना लेकर शरद के घर पहुंची, मैंने दरवाज़ा खटखटाया कुछ देर बाद वो बाहर आया मैंने उसकोखाना दिया और कहा – खाना खा लो मैंने खाना लाई हूँ। उसनेमुझसे खाना लिया, खाना लेते समय उसका हाथ मेरे हाथ में छू गया मुझे बहुत अच्छालगा। मैं वहां से चली आई
शाम हुई मम्मी ने मुझसे फिर से कहा – जाओ खाना दे आओ औरदोपहर का और ये दोनों बर्तन ले आना। मैंने कहा ठीक है अभी जा रही हूँ।
रात के 7:30 बज रहे थे जब उसके घर पहुंची तो दरवाज़ा थोडा सा खुला हुआ थाऔर मैंने बिना आवाज दिए ही अंदर चली आई, बाहर वाले कमरे में तो कोई नही था लेकिन जब मैं अंदर गई तोमैंने देखा शरद चुदाई की वीडियो देख रहा था। उसकी नजर अचानक मुझ पर पड़ी, उसने तुरंत ही फोन बंद कर दिया और नीचे की तरफ देखने लगा। उसनेमुझसे कहा – देखो ये तुम किसी को मत बताना तुम जोकहोगी मैं करूँगा लेकिन ये किसी मत बताना। मेरे मन में तो यही चल रह था की मैं शरदसे कह दूँ की मैं तुमसे चुदना चाहती हूँ क्या तुम मुझसे चोदोगे, लेकिन मुझे शर्म लग रही थी।

कुछ देर के बाद मैंने उससे कहा पहले तो तुमखाना खाओ फिर ये सब बातें करना। जब शरद ने खाना खा लिया तो मैंने उससे कहा – देखो पहली बात तोये की आज के बाद तुम ये सब नही देखोगे, और दूसरी बात मैंने कभी ये देखा नही है तो मेरा मन भी कर रहाहै देखने को अगर तुम मुझे आज दिखा दो मैं किसी से नही कहूँगी। उसने कहा ठीक है
मैं उसके बगल में बैठ गई और चुदाई की वीडियो कोशरद ने लगा दिया, शुरू में तो शरद केवल वीडियो ही देख रहा था लेकिन कुछ देर बादजब उसका मूड भी चोदने को करने लगा तो मेरी चूचियो की तरफ देखने लगा। और कुछ देरबाद उसने अपने हाथ को मेरी जांघ पर रख दिया और धीरे धीरे अपने हाथो को हिलाने लगा।कुछ देर बाद वीडियो ख़त्म हो गया, मेरा मन था की शरद खुद ही कहे मुझसे चुदवाने के लिए लेकिनपहले उसने कुछ नही कहा लेकिन जब मैं जाने लगी तो उसने मेरे हाथ को पकड लिया औरमुझे कहा – मैं चाहता हूँ तुम कुछ देर और रुको मैंतुमसे और बात करना चाहता हूँ। मैंने कहा – कहो जो कहना है, उसने बिना कुछ कहे फिर से वीडियो लगा दिया और मुझसे कहा – क्या तुम मुझसेचुदना चाहोगी???? मैं तो चाहती ही थी की वो मुझे चोदे। मैंने उसको मना नही कियाऔर मैंने कहा – बहुत देर लगा दी तुमने मुझसे ये कहनेमें। Mujhe Chodo Meri Bur Ki
उसने तुरंत ही मुझको गोदी में उठा कर बेड पर लेगया, उसने मुझे बेड पर लिटा दिया मेरे पैरो को सहलाते हुए मेरे चूतसे होते हुए मेरी चूचियो को चुमते हुए मेरे गले को चूमने लगा। कुछ देर पहले तोमेरे गले को शरद ने पिया और फिर वो मेरे कान को अपने मुह से काटने लगा जिससे मैंभी धीरे धीरे जोश में आपने लगी। उसने मेरे गाल को चुमते हुए मेरे होठ को चूमने लगाऔर मेरे निचले होठ को अपने मुझे में लेकर पीने लगा। मैंने भी उसको पाने बाँहों मेंभर लिया और उसके साथ में मैं भीं उसके होठ को पीने लगी। कुछ देर किस करने से शरदऔर भी जोश में आने लगा और वो मेरे होठ को काटने लगा और अपने हाथ को मेरे टॉप मेंडाल कर मेरे ब्रा के ऊपर से ही मेरी चूचियो को दबाने लगा। और साथ में मुझे किस भीकर रहा था। मुझे काफी मज़ा आ रहा था

बहुत देर तक एकक दुसरे के होठ को पीने के बाद, शरद मेरी चूचियो की तरफ बढ़ने लगा और मेरे चूचियो के बीच मेंकपड़ो के ऊपर ही अपने मुह को रखा कर अपने दोनों हाथो से मेरे मम्मो को दबाने लगा औरकुछ ही देर बाद मेरे टॉप को उसने निकाल दिया और मेरे काले रंग के ब्रा में छुपेहुए मेरी गोरी गोरी चूचियो को दाबने लगा और मेरे निप्पल को अपने दांतों से खीचनेलगा। वो मेरे चूचियो को अपने दोनों हाथो से गुब्बरे की तरफ से जोर जोर से दबा रहाऔर साथ में मेरी हलके काले निप्पल को चूम भी रहा था। कुछ देर बाद उसने मेरे चूचियोको पीना शुरू किया और साथ में मेरी चूचियो को दबा भी रहा था और अपने दुसरे हाथ सेमेरे कमर को भी सहला रहा था। मुझे काफी मज़ा आ रहा था, कुछ देर बाद शरद बेकाबू होने लगा और वो दूध को खूब तेजी सेदबाया और फिर अपने मुह के अंदर ले लेता और फिर कुछ दे बाद बाहर निकालता। कभी कभी तो उसके दांत मेरे स्तन में चुभ भी जाते थे जिससे मैं चीख पड़तीथी और उसने बाल को पकड लेती थी। Mujhe Chodo MeriBur Ki

लगभग 20 मिनट तक उसने मेरे स्तन को पिया और फिर मेरे पेट को चुमते हुएमेरी नाभि को पीते हुए मेरी चूत के पास पहुंचा, उसने मेरे लोवर को निकाल दिया और साथ में मेरी नीली पैंटी कोभी निकाल दिया और फिर मेरी चूत को सहलते हुए अपने उंगली को मेरी चूत में लगानेलगा। और फिर कुछ देर बाद शरद ने अपने 9 इंच के लंड को बाहर निकला और उसने मेरे हाथ में अपने लंड कोरख दिया और मुझसे कहा – मेरे लंड को चुसो, मैंने उसने लंड को अपने हाथ में लेकर पहले कुछ देर सहलाया औरफिर कुछ देर बाद मैंने उसको अपने मुह में रख लिया चूसने लगी। मैं उसके लंड को बड़ेप्यार से चूस रही थी लेकिन कुछ देर बाद शरद ने मेरे चहरे को पकड लिया और अपने लंडको तेजी से मेरे मुह में डालने लगे। कुछ देर तक ठीक था लेकिन जब उसके अंदर कीवासना और भी भड़क गई तो वो मेरे मुह को ही चोदने लगा।
कुछ देर बाद जब वो अपने आप को रोक नही पाया तोउसने जल्दी से मुझे लेटा दिया और मेरे ऊपर चढ़ गया. मेरी चुदाई करने केलिए अपने लंडको मेरी चूत में लगा कर कुछ देर धीरे धीरे मेरी चूत के दाने में रगडते हुए मेरीचूत के अंदर डाल दिया जिससे मैं हल्का चीखते हुए पीछे हो गई और अपने चूत्तको मसलने लगी। शरद ने फिर से अपने लंड को मेरी चूत में लगा कर अपने लंड को मेरीचूत के अंदर डाल दिया और मेरी चुदाई करने करने लगा। अफ्ले कुछ देर बहुत दर्द होरहा था, लेकिन कुछ देर लगातार चुदाई करने से मेरी चूत थोड़ी ढीली हुईतो शरद को चोदने में और मुझे चुदने में मज़ा आने लगा था।

कुछ देर चुदाई करने के बाद जब शरद पूरी तरह सेजोश में आ गया तो वो बड़ी तेजी से मेरी चूत को चोदने लगा और साथ में मेरी चूची कोभी तेजी से दबाते हुए मेरी चुदाई करने करने लगा। उसके मोटा और थोडा टेढ़ा लंड मेरीचूत को फाड़ रहा था और मैं जोर जोर से .. ….. हहा आह आह आह …ओह्हो ऊओह्ह्हओह्ह्ह…. हा हा हा .. उफ़ उफ़ उफ्फ्फ्फफ्फ्फ़ … उफ्फ्फ ..प्लीस्स्सस्स्स .. प्लीस्स्स्सस्स्स आराम आराम से .. आःह्ह आह्ह्हह्ह …. मम्मी मम्मी …. हूँ उनहू …… करके चीखने लगी।उसकी चुदाई की रफ़्तार तो धीरे धीरे बढती ही जा रही थी ऐसा लग रहा था कुछ ही देरमें मेरी चूत फट ही जायेगी, लेकिन बहुत तेजी से चुदाई करने से शरद कुछ देर बाद मुझे चोदनाबंद कर दिया और कुछ देर बाद मुझे किस करते हुए मेरे चूचियो को दबाया।
कुछ देर बाद उसने फिर से मुझे चोदना शुरू कियालेकिन इस बार उसने मुझे ऊपर कर दिया और खुद नीचे लेट गया और फिर मेरी चुदाई करनाशुरू किया। पहले तो उसने अपने हाथो से मेरे कमर को ऊपर नीचे कर रहा था लेकिन कुछ देर बाद मैं खुद ही खूब नीचे तकजाने लगी ताकि उसके लंड मेरी चूत के ज्यादा अंदर तक जा सके। बहुत देर तक मुझेचोदने के बाद शरद झड़ने वाला था था उसने मेरी चूत से अपना लंड बाहर निकाला और मुठ मरना शुरु किया, कुछ देर बाद जब उसका मॉल निकलने वाला था तो उसने अपने लंड कोमेरे मुह में लगा दिया और मेरे मुह पर ही अपने वार्य को गिरा दिया।

देखो जी मुझे तो सेक्स कहानियां लिखना अच्छा लगता हैं और चुदवाना भी मेरा नाम अनामिका शर्मा हैं और मैं इस साईट की CEO हूँ और इस साईट पे आप लोगो को हिंदी सेक्स स्टोरी, हिंदी सेक्स कहानियां, उर्दू सेक्स कहानियां, English Sex Story, बंगाली सेक्स स्टोरी मिलेगी जो अगर आपको पसंद हैं वो पढो और अपने दोस्तों को भी शेयर करो Whatsapp पर धन्यवाद!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.